सरकार का एक और यू टर्न

दोगलापन के साथ साथ देश के साथ वादाखिलाफी भी कहा जा सकत है बीजेपी की FDI नीति को लागू करना

1
96

जब बीजेपी विपक्ष में थी तब कांग्रेस की हर नीति के खिलाफ आवाज़ उठती थी अब जब सत्ता में पूर्णबहुमत से है तो कांग्रेस की हर नीति को कुछ अनावश्यक बदलाव के साथ पारित कर रही है ।जिसमे से एक है एफ डी आई । मोदी सरकार द्वारा इस नीति को हरी झंडी दिखाते ही विरोधियों के स्वर ऊंचे हो गए है  हो भी क्यों न पहले इसके खिलाफ आवाज़ उठा कर बीजेपी सत्ता में आई और अब यू टर्न की राजनीति खेल कर इसको पारित कर दिया.

सिंगल ब्रांड रिटेल सेक्टर में आटोमेटिक रूट से 100 फीसदी विदेशी निवेश को सरकार की मंज़ूरी के खिलाफ आवाज़ तेज़ हो रही है. संघ परिवार से जुड़े भारतीय मज़दूर संघ ने मांग की कि मोदी सरकार भारतीय मार्केट पर विदेशी निवेश के असर पर व्हाइट पेपर लेकर आए.

रिटेल में एफडीआई पर मोदी सरकार के हालिया फैसले को लेकर कांग्रेस ने बुधवार को जमकर निशाना साधा। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि रिटेल क्षेत्र में एफडीआई पर हालिया फैसला मोदी सरकार की दुहरी नीति को दिखाता है। कांग्रेस की ओर से यह आरोप मीडिया से बातचीत के दौरान यूपीए सरकार में पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह ने लगाए। इस मौके पर कांग्रेस ने यूपीए सरकार द्वारा लिए गए रिटेल एफडीआई के फैसले पर बतौर गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी के बयान की एक क्लिपिंग भी जारी की, जिसमें केंद्र सरकार की नीति की कड़ी आलोचना करते हुए दिखाया गया था।

 

Shallu Duggal

Aam Press

1 COMMENT

LEAVE A REPLY