सम्मान चाहिए तो पहले देना होगा

जब तक एक महिला दूसरी महिला की इज्ज़त नहीं करेगी तब तक यह समाज हम महिलाओ की इज्ज़त नहीं करेगा

3 252
बस में एक लड़की को देख कर कुछ मनचले ओछी टिपणी करने लगे कभी उसके कपड़ो पर कभी उसके मेकअप पर इस पर पूरी बस चुपचाप तमाशा देख रही थी I तभी एक सीट पर बेठी दो लडकियों की बाते कानो में पड़ी जो बोल रही थी “बस में सफ़र करना है तो इतनी तंग जींस पहनने की क्या जरूरत थी सूट पहन लेती और मेकअप तो देखो से फैशन शो में जा रही है बोल कर दोनों हसने लगी I …..इनकी बाते सुन कर इतना तो समझ आ गया की समाज को महिलाओ के प्रति जागरूक करने से पहले हमको खुद एक दुसरे को सम्मान देना होंगा इस घटना में अगर यह दो लड़किया उस एक लड़की के लिए आवाज़ उठाती तो मनचलों की हिम्मंत ना होती किसी भी प्रकार की टिपणी देने की पर आवाज़ उठाने के जगह वो दोनों भी दबी जुबान पर लड़की की ही गलतिय निकाल कर हंस रही थी I उनको शायद यह अंदाज़ा नहीं की मनचलों के नज़र में जींस सूट कुछ नहीं होता उनकी मानसिकता ही ओछी होती है I



अकसर देखा गया है की एक महिला जो ऑफिस में ज्यादा तरक्की लेती है वो अपने सहकर्मियों की उपेक्षा की भागी बनती है I पुरुष कर्मियों के साथ साथ महिला कर्मी भी उसकी क़ाबलियत से ज्यादा कभी उसकी खूबसूरती या कभी उसकी तेज स्वभाव को उसकी तरक्की का कारण बताते है I उसकी महनत और ईमानदारी का जिक्र भी नहीं करते यह इसलिए होता है क्युकी कोई भी महिलाकर्मी  इस तरह की बातो का विरोध करने की जगह मज़े लेती है और दूसरी महिला को निचा देखती है अगर इसी स्थिति में कोई एक भी महिलाकर्मी सख्ती से जवाब दे तो  इस तरह की छोटी सौच वालो को करारा जवाब मिल जाएगा I
घर हो बहार हो ऑफिस हो मार्किट हो महिलाओ के खिलाफ बडती बतमीजी सिर्फ तभी रुक सकती है जब हम महिलाए एक दूसरी की इज्ज़त करे एक दुसरे के सम्मान के लिए आगे आए I घरो में अकसर देकते है की सास बहु ननद के झगडे होते है ऑफिस में तरक्की के लिए महिलाए ही दुसरे महिला के चरित्र पर ऊँगली उठती है I एक सर्वे के अनुसार महिलाए ही एक दुसरो के कपड़ो पर सबसे अधिक टिपणी करती है …किस समाज की बात करते है हम जहा हम एक दुसरे को निचा देखाने  में कोई कसर नहीं छोड़ते बहुत जरुरी है अपने को उस मानसिक स्थिति में लाना जंहा किसी और से पहले हम एक दुसरे के लिए आवाज़ उठाए I ना किसी महिला के लिए गलत बात सुने ना बोले इससे कम से कम 50% समाज में तो महिलाओ को इज्ज़त मिल जाएगी I
आम प्रेस
3 Comments
  1. Sanjay Gupta says

    Good one shallo mam

    1. Editor AaM Press says

      Thank You Sanjay 🙂

  2. सपना मारवाह says

    बहुत अच्छी सोच

Leave A Reply

Your email address will not be published.